चन्द घण्टों में करोड़ों की बिकवाली, काले नोटों को खपाने की खेली पाली, अब आयकर का कसा शिकंजा तो कह रहे यह क्या मुसीबत कर ली साली

phpthumb_generated_thumbnail-8

भोपाल. आयकर विभाग ने सराफा कारोबारियों के प्रतिष्ठानों पर जांच का काम तीसरे दिन भी जारी रखा। जांच में गुरुवार को तनिष्क शोरूम को शामिल कर लिया। तनिष्क नाम से भोपाल में दो शोरूम संचालित हो रहे हैं। इसके साथ ही अरोरा ज्वैलर्स एवं अग्रवाल ज्वैलर्स पर सर्वे की कार्रवाई को सर्च में बदल दिया है। इसके अलावा जिन 15 प्रतिष्ठानों पर जांच चल रही है, उनमें से चार के यहां कार्रवाई पूरी हो चुकी है।
आयकर विभाग मंगलवार से भोपाल, इंदौर, रतलाम एवं जबलपुर के सराफा कारोबारियों के यहां सर्वे की कार्रवाई कर रहा है। इसमें सर्वाधिक भोपाल के सराफा प्रतिष्ठान है, इसमें अग्रवाल ज्वैलर्स, अलंकार ज्वैलर्स, सजावट ज्वैलर्स, सेन्को गोल्ड, पंजाब ज्वैलर्स, अक्षय ज्वैलर्स एवं स्वर्ण प्रभा ज्वैलर्स शामिल है। इसके अलावा जबलपुर के 3, इंदौर के 3 एवं रतलाम के 2 सराफा प्रतिष्ठान शामिल है। बताया जाता है कि भोपाल में जिस अरोरा ज्वैलर्स (सेन्को) एवं अग्रवाल ज्वैलर्स पर सर्वे की कार्रवाई चल रही थी, उसे गुरुवार को सर्च में बदल दिया गया। जांच अधिकारियों ने अरोरा ज्वैलर्स के संचालक के अवधपुरी स्थित निवास पर भी छापामार कार्रवाई शुरू कर दी है। इसी के साथ गुरुवार को तनिष्क के राजधानी में संचालित दो शोरूमों पर भी जांच टीम पहुंच गई है। हालांकि प्रारंभिक जांच में यहां आभूषणों के स्टॉक का मिलान करने की जानकारी मिली है। इसके अलावा अधिकारी तनिष्क के कंप्यूटर, बिल बिक्री के आंकड़ों को भी देख रहे हैं।

जिन सराफा प्रतिष्ठानों पर जांच की जा रही थी, उनमें से चार के यहां जांच का काम पूरा हो गया है। गुरुवार को भोपाल में दो ज्वैलर्स के यहां सर्वे की कार्रवाई को सर्च में बदला गया है। इसी के साथ तनिष्क शोरूम पर भी जांच की जा रही है।
आरके पालीवाल, प्रधान आयकर निदेशक, इन्वेस्टीगेशन

Share